वसुधैव कुटुम्बकम्

Originally posted on R K Karnani blog:
वसुधैव कुटुम्बकम्मेरा ऐसा मानना है कि समाज में पहले से अधिक भाईचारा है और विशेष कर कोरोना काल के प्रादुर्भाव से और भी बढ़ा है |  परिवार से शुरुवात होकर पास पड़ोस, फिर मकान या कॉम्प्लेक्स और फिर अपने समाज ,शहर आदि में इस भाईचारे का फैलाव दुनिया के सभी वृद्धाश्रमों को बंद करने की…

WORLD MARITIME DAY

World Maritime Day – 24th September The World Maritime Day theme for this year is “Empowering Women in the Maritime Community”. This day provides an opportunity to raise awareness of the importance of gender equality, in line with the United Nations ‘Sustainable Development Goals’ and to highlight the important yet underutilized contribution of women inContinue reading “WORLD MARITIME DAY”

युद्ध से नफरत कर

Originally posted on The Horizon:
युद्ध विनाश है इससे नफरत कर सभ्यताओं का करे सर्वनाश जिसे रखा युगों से संजो कर युद्ध कोई जवाब नहीं है ये एक सवाल टाल सिर पर लटकी युद्ध की तलवार भला न तेरा, भला न मेरा फिर क्यों करता ये भी मेरा, वो भी मेरा ? मोहब्बत से जीत…

POWER

Gaze at the waves, with caps of white, standing tall like snow-capped mountains. They rise up and move forward, with crowns. Crowns of purity and power, majestic masters. See their motions: relentless, unaffected by objects in their path – whether full or glittering, large or small. Tireless, they know not the word ‘obstacles’. Power, beingContinue reading “POWER”